साइकिल का आविष्कार किसने किया और कब किया |

हम सभी लोग Cycle के बारे में तो जानते ही होंगे और चलाये भी होंगे|  लेकिन क्या आपको पता है कि साइकिल का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ | जैसा की हम जानते है की साइकिल एक सस्ता और सबसे अच्छा साधन है जिसकी सहायता से हम एक जगह से दूसरे जगह बहुत ही आसानी से जा सकते है| इसे दुनिया का सबसे सस्ता ट्रांसपोर्ट माना जाता है और यह है भी| ऐसा इसलिए कहा जाता है की इसको चलाने के लिए कोई भी ईंधन की जरुरत बिलकुल भी नहीं पड़ती है और कोई भी इसे आसानी से चला सकता है| किन्तु अब इसका प्रयोग बहुत ही काम हो गया है लेकिन गाँव में अभी भी सभी के  घरो में इसे देखने को मिल जायेगा और शहरो में भी कुछ घरो में बच्चो  के लिए इसे प्रयोग किया जाता है| अब लोग साइकिल की जगह बाइक का प्रयोग करते है|

साइकिल का आविष्कार किसने किया था

वैसे तो हम सभी लोग cycle का प्रयोग तो किये ही होंगे लेकिन क्या आपको पता है की साइकिल का आविष्कार किसने किया और कब किया | यदि आपको नहीं पता  है तो आज हमलोग इसके बारे में विस्तार से जानेंगे की cycle ka avishkar kisna kiya और कैसे किया गया|

साइकिल का आविष्कार जर्मनी के वन अधिकारी Karl Von Drais ने किया था दुनिया की इस पहली Bicycle का avishkar  आज से लगभग 200 साल पहले यानी 1817 में हुआ था। Karl Von Drais यूरोप के बाइडेर्मियर काल के एक प्रसिद्ध आविष्कारक थे Cycle के अलावा उन्होंने और भी चीजों का इजात किया था।

साइकिल का आविष्कार कैसे और कब हुआ

साल 1815 में Indonesia में स्थित माउंट टैम्बोरा ज्वालामुखी में एक बड़ी  विस्फोट हुआ था जिसके करन उत्पन्न राख पूरी दुनिया में बादल की तरह फैल गए थे। जिसकी वजह से दुनियाभर के देशों में तापमान में भारी गिरावट देखी गयी इसका सबसे अधिक प्रभाव उत्तरी गोलार्ध के देशों में हुआ जहाँ फसलें पूरी तरह से तबाह हो गयी थी।

फसलों के तबाह होने से भुखमरी जैसे हालात उत्त्पन हो गए थे इससे काफी संख्या में पालतू जानवर की मृत्यु हो गयी थी|  चूँकि उस समय पालतू मवेशियों का इस्तेमाल यातायात और सामान ढोने में किया जाता था। ऐसेमें एक साथ इनकी मृत्यु होने के कारण यातायात में बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा था | इसी समस्या को देखते हुए सामान को ढोने के लिए एक विकल्प  का विचार किया जाने लगा और इस विकल्प के रूप में साइकिल का आविष्कार किया गया था।

शुरुआत में पहली बार इस साइकिल को से बनाई गयी थी जिसमें न कोई पैडल होते थे और न ही कोई गियर | इसके पहिये होते थे इसे चलाने के लिए व्यक्ति को धक्का लगाना पड़ता था साथ ही हाथों को सहारा देने के लिए और साइकिल के मार्गदर्शन के लिए एक हेंडल दिया गया था।

जब Karl Von Drais के द्वारा पहली बार लकड़ी की साइकिल बनाई गई थी तो उसका  वजन 23 किलोग्राम का था और उन्होंने अपने आविष्कार को दुनिया के सामने लाने के लिए 12 जून 1817 को जर्मनी के दो शहर मैनहेम और रिनाउ के बीच चलाकर लोगों के सामने प्रदर्शित किया था। इस दौरान 7 किलोमीटर की दूरी तय करने पर लगभग एक घंटे से अधिक का समय लगा था।

वर्तमान की साइकिल का आविष्कार कब हुआ

जैसा कि अब आपको तो आपको पता चल ही  गया होगा की शुरुआत में साइकिल को लकड़ी का बनाया गया था जिसको चलाने के लिए पैडल नहीं हुआ करते थे ऐसे में दुनिया की पहली पेडल वाली Bicycle साल 1863 में फ्रांस के एक मैकेनिक Pierre Lallement द्वारा बनायी गयी थी इन्होने अगले पहिये में पैडल लगाया था।

आज की साइकिल में पैडल बीच में  है जो एक चैन के द्वारा पिछले पहिये से जुड़ा हुआ होता है और इस तरह की डिजाइन कई प्रयोगों के बाद आई थी जाॅन केम्प ने ही साल 1885 में पहली बार आज की तरह दिखने वाली साइकिल को बाजार में लाये थे।

साइकिल के आविष्कार से जोड़े कुछ सवालो के जवाब 

साइकिल का अविष्कार किसने किया था ? ( Cycle ka Avishkar kisne kiya tha )

साइकिल का अविष्कार Karl Von Drais ने किया था |

साइकिल का अविष्कार किसने और कब किया ?

साइकिल का अविष्कार Karl Von Drais ने  1817 में किया था |

साइकिल का अविष्कार किसने किया नाम बताए ?

साइकिल का अविष्कार करने वाले का नाम Karl Von Drais है |

साइकिल का अविष्कार कब हुआ ?

साइकिल का अविष्कार साल 1817 में हुआ  |

साइकिल का अविष्कार किसने किया है ? ( Cycle ka Avishkar kisne kiya hai )

साइकिल का अविष्कार Karl Von Drais ने किया है  |

Leave a Reply

Your email address will not be published.